मेरा भारत महान

An initiative to keep the truth in front of everyone

48 Posts

24 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 14497 postid : 1134610

कौन कहता है मदरसों में भारतीय ध्वज फहराया नही जाता ?

  • SocialTwist Tell-a-Friend

पता नही लोगों को शक की बीमारी क्यों होती है बड़े विद्वानों का कहना है की शक का कोई इलाज नही होता है पर मैं हमेशा कोशिश करता हूँ की हमारे भारत में एक दुसरे के प्रति जो भेद भाव है शक की बीमारी है वो समाप्त हो जाये ।

इस विष्य को लेकर कई बार तरह तरह से समझाने के उदेश्य से लेख लिख चूका हूँ पर कुछ लोगों को कितना भी समझा लो पर वो समझने वाले नही है विद्वानों ने कहा है के किसी जाहिल के सामने कुछ बोलना भेंस के आगे बीन बजाना जैसा है ।

यहाँ पढ़े – ईराक की धरती पर भारतीय ध्वज

खैर पिछले दिनों एक व्यक्ति ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की के मदरसों में गणतंत्र दिवस , स्वतंत्रता दिवस पर भारतीय ध्वज  फहराया नही किया जाता हालाँकि यह असत्य है मदरसों में हमेशा से भारतीय ध्वज का सम्मान किया जाता रहा है और भारतीय ध्वज फहराया भी किया जाता रहा है यह आरोप झूठा है की  मदरसों में भारतीय ध्वज नही फहराया जाता है ।

हाईकोर्ट में याचिका दायर होने के बाद हाईकोर्ट ने सभी मदरसों को आदेश दिया की वे गणतंत्र दिवस , स्वतंत्रता दिवस पर भारतीय ध्वज फहराया जाये, मैं हाईकोर्ट के आदेश का सम्मान करता हूँ पर यह भी एक सत्य है के हाईकोर्ट के आदेश के पहले से ही मदरसों में भारतीय ध्वज को फहराया जाता  रहा है और फहराया जाता रहेगा ।

मैंने प्राम्भिक शिक्षा एक मदरसे से ही प्राप्त की है वहाँ हर वर्ष गणतंत्र दिवस , स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा राष्ट्रीय गान के साथ फेराया जाता था और हम को एक दिन पहले बोला जाता था की आपको अपने घर से अपने हाथो से बना तिरंगा अपने हाथो में लाना है और हम बच्चे ऐसा ही करते थे । मैं यह बात 90 की दशक की कर रहा हूँ । पर अफ़सोस होता है जब लोग झूठे आरोप अपनी राष्ट्रवादी छवी दिखाने के लिए लगाते हैं ।

पर इतना होने के बाद भी अभी इसी वर्ष एक संस्था ने मुस्लिम समाज से निवेदन किया के वे गणतंत्र दिवस ,स्वतंत्रता दिवस पर भारतीय ध्वज को फेराये , भाई लोगो यह तो हद ही हो गई अरे किया इस भारत को आज़ादी दिलाने के लिए केवल किसी एक समुदाय ने खून बहाया है ? यह देश जितना ओरो का है उतना मुसलमानों का भी है । ऐसे आरोप लगाना न देश हित में हैं और न मानव हित में ऐसे आरोपों का अर्थ केवल यही है की आप मुसलमानों को अपनी उंगलियो पर नचाना चाहते है । भारत की जनता को किसी भी धर्म समुदाय के द्वारा या किसी धर्म समुदाय के लोगो के लिए राष्ट्रवादी का प्रमाण पत्र नही चाहिये ।

हो सकता है कई लोग पापीस्तान (पाकिस्तान ) का हवाला दे तो उनके के लिए मेरा उत्तर यह है की यदि भारत के मुसलमानों को पापीस्तान जाना होता तो जब ही जाते जब बटवारा हुआ पर सत्य यह है जो पापीस्तान नही गए वे कभी भी वहाँ जाना ही नही चाहते थे उन लोगों के दिलो में भारत के लिए राष्ट प्रेम कूट कूट कर भरा था और भरा है कुछ लोगों के कारण पुरे समज को पापी बताना कहाँ का न्याय है? ऐसे लोग तो हर धर्म और समुदाय में होते हैं जो देश के साथ नमक हरामी करते हैं फिर आरोप केवल एक विशेष धर्म पर ही प्रहार क्यों ?

जिन लोगो को लगता है मैं झूठ बोल रहा हूँ वो गणतंत्र दिवस ,स्वतंत्रता दिवस पर मदरसों में जा कर देखे और जो लोग नही जा सकते उनके लिए में यहाँ कुछ फोटो पोस्ट कर रहा हूँ ताकि की मैं अपने को सत्य साबित कर सको और उन लोगों को झूठा साबित कर सको जो आरोप लगाते हैं ।

Web Title : https://www.facebook.com/syedriyaz.abidi



Tags:               

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

2 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

bhagwandassmendiratta के द्वारा
January 27, 2016

रियाज़ अब्बास जी बहुत उम्दा योगदान के लिए धन्यवाद| तथ्यों समेत आपकी प्रस्तुति सराहनीय है| किसी भी कौम के हों चंद महत्वकांक्षी (selfish) लोगों के द्वारा ही देश में धार्मिक उन्माद फैलाने का प्रयास किया जा रहा है ताकि वे लोग अपनी रोटियां सेक सकें वर्ना देश के हर गली नुक्कड़ पर सभी धर्मों के अनुयायी एक दूसरे पर निर्भर भी हैं और मिलजुल कर रह भी रहे हैं किसी सच्चे देश वासी को देश के प्रति अपनी निष्ठा का प्रमाण देने की आवश्यकता नहीं लेकिन इस बात का प्रचार करने की आवश्यकता महसूस की जा रही है इसलिए आप जैसे बुद्धिजीवी लोग आगे बढ़ कर इसी तरह के लेख लिखते रहेंगे तो बहुत से अनभिज्ञ लोगों के सामने सचाई लाई जा सकेगी| उम्मीद है भविष्य में भी आपके लेख पढ़ने को मिलेंगे| धन्यवाद |

Shahid Naqvi के द्वारा
January 27, 2016

रियाज़ अब्बास साहब ने बेहतर पोस्ट लिखी है ।बधाई लेकिन मैसमझता हूं कि  मेरा भारत महान है ।तमाम लोग उदार हैं जो गलत बात पर मुसलमानो के साथ ऐसे खडंे रहते जैसे उन पर ही आरोप लगा हो।


topic of the week



latest from jagran